क्या प्रोटीन का विकल्प केवल माँस का सेवन ही है? जी नही

प्रोटीन protein in veg-diet

क्या प्रोटीन का विकल्प केवल माँस का सेवन ही है? जी नही

.
पोस्ट में सबसे पहले आप सब से निवेदन है कि इस पोस्ट को किसी भी तरह धर्मिक नजरिये से जोड़ कर ना देखें ।

इस दुनिया में समस्त जीवों को मोटे तौर पर दो वर्गों में बाँटा जा सकता है शाकाहारी और माँसाहारी । माँसाहारियों के घर में शाकाहारी भी मिलते हैं और शाकाहारियो के घर में माँसाहारी मिल जाते हैं । इन्सान अपने आप में ये फैसला करने के लिये स्वतंत्र है कि वो क्या खाये और क्या ना खाये । पिछले कुछ समय से एक मिथक बहुत जोर शोर से चल रहा है कि उत्तम प्रोटीन का भण्डार केवल माँस में होता है । इस पोस्ट में हम इस मिथक को तोड़ने का प्रयास करेंगे । ये बात सत्य है कि माँस के सेवन से प्रोटीन मिलता है किन्तु ये कदापि सत्य नही है कि केवल माँस के सेवन से ही प्रोटीन मिलता है । शाकाहारी भोजन में भी प्रोटीन का अच्छा भण्डार मौजूद है । हमारे जो मित्र शाकाहार के सेवन से प्रोटीन पाना चाहते हैं वो ये सब बहुत ध्यान से पढ़ें और प्रयोग करें ।

.
1 :- दूध और दूध से बनी चीजें जैसे पनीर, मक्खन, दही, घी आदि में प्रोटीन बहुत अच्छी मात्रा में पाया जाता है इसलिये इन चीजों को अपनी डाईट का हिस्सा जरूर बनायें । दूध का सेवन रात के समय और दही का सेवन सुबह के समय करना उचित रहता है । घी और पनीर दोनों समय सेवन किया जाता है । दुग्ध उत्पादों की एक खास बात यह भी है कि इनमें प्रोटीन के साथ साथ कैल्शियम भी बहुत उत्तम मात्रा में पाया जाता है ।
2 :- शाकाहारी भोजन का मुख्य भाग होती हैं दालें । सभी दालों में प्रोटीन इतना ज्यादा होता है कि जिसकी कोई तुलना नही हो सकती है । एक समय के भोजन में एक इंसान द्वारा सामान्यतः खाई जा सकने वाली दाल में पचास ग्राम प्रोटीन पाया जाता है । अतः जिन लोगो को प्रोटीन की ज्यादा जरूरत होती है उनको अपने भोजन में दाल को जरूर शामिल करना चाहिये । अगर प्लेन दाल पसंद नही आती है तो मसाला दाल अथवा गाढ़ी दाल बनाकर सेवन किया जा सकता है । दाल का सूप बनाकर सेवन करना भी एक अच्छा ऑप्शन है ।
3 :- पनीर के अंदर बाकि दुग्ध उत्पादों से ज्यादा प्रतिशत मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है और ये जरूरी नही कि पनीर को केवल सब्जी बनाकर ही प्रयोग किया जाये । पनीर को कच्चा ही काटकर भी खाया जा सकता है और सलाद में मिलाकर नीम्बू डालकर भी सेवन किया जा सकता है । पनीर को भूनकर उसकी चाट भी बनायी जा सकती है और पनीर का टिक्का तो पूरे विश्व में प्रसिद्ध है ही ।
4 :- सभी सब्जियों में और फलों में भी प्रोटीन ज्यादा कम रूप में जरूर पाया जाता है । अमूमन देखा जाये तो हमारे पूरे दिन के शाकाहारी खाने में शरीर की दैनिक जरूरत के हिसाब से प्रोटीन उप्लब्ध हो जाता है । यदि हम ताजा बना हुया और साफ सुथरा भोजन करते हैं तो हमको प्रोटीन के बारें में ज्यादा चिंता करने की कोई जरूरत नही है ।
5 :- इन सब तथ्यों के अलावा शाकाहार में मौजूद दो चीजे ऐसी हैं जो प्रोटीन का पावर हाऊस कही जाती हैं । ये दो चीजे हैं चना और सोयाबीन । चने और सोयाबीन के दानों में इतना ज्यादा प्रोटीन होता है कि बहुत ज्यादा शारीरिक श्रम करने वालों की प्रोटीन की जरूरत भी इन दो चीजों के सेवन से पूरी हो जाती है ।
.
प्रकाशित आयुर्वेद के माध्यम से दी गयी यह जानकारी आपको अच्छी और लाभकारी लगी हो तो शेयर जरूर कीजियेगा ।

.
पढ़िये एक और बहुत उत्तम पोस्ट जो आपको बताती है प्याज से मिलने वाले स्वास्थय लाभों के बारे में
यहॉ क्लिक करें प्याज से मिलने वाले स्वास्थय लाभ

28153 Post Views: 1 Views:
Please follow and like us:
58

4 Comments


  1. //

    So nice jankari


  2. //

    50% of protein required by human body is animal protein . It can be taken by dairy products by vegetarian s but dairy products are basically calcium and lack adequate protein.



  3. //

    Gud information related to protine

Comments are closed.