चमेली के दिव्य अनुभूत टोटके, धन धान्य के लग जायेंगें भण्डार

चमेली के दिव्य अनुभूत टोटके, धन धान्य के लग जायेंगें भण्डार

चमेली
चमेली

चमेली के फूल और पौधे का नाम आपने जरूर सुना होगा और चमेली के तेल से भी आप भली प्रकार परिचित होंगे ही । आज बात करते हैं चमेली के पौधे, तेल से जुड़े कुछ दिव्य टोटको के बारे में जिनको अपनाकर आप बहुत लाभ उठा सकते हैं । चमेली का पौधा आपके आस पास कही ना कही जरूर लगा हुआ मिल जायेगा । आपको बस इतना करना है कि इस लेख में बताये गये टोटको को पूरा करने के लिए उस पौधे का प्रयोग करना है । तो चलिये शुरू करते हैं ।

पति पत्नी के अच्छे सम्बंध के लिए :-

चमेली का तेल 200 मिली लेकर उसमें 20 लौंग कूटकर डाल दें और अच्छी तरह से मिला लें । आप चाहें तो साबुत लौंग की जगह 10 मिलि लौंग का तेल भी मिला सकते हैं । इस तेल में बाती भिगोकर और इस तेल को दिये में भरकर दिन में किसी भी समय अपने शयन कक्ष में दीपक जला कर रख दें । इससे कमरे से निगेटिव एनर्जी का नाश होता है और उस कमरे में सोने वाली पति पत्नी का अपसी प्रेम मजबूत होता है । दीपक रखते वक्त इस बात का विशेष ध्यान रखें कि आसपास कोई आग पकड़ने वाले सामान ना रखे हों ।


विवाह में अड़चन होने पर :-

जिन लड़को और लड़कियों का विवाह सही समय पर ना हो पा रहा हो, रिश्ता बार बार होकर टूट जाता है और शादी की उम्र निकलती जा रही है उनके लिए जो प्रयोग हम बता रहे हैं वह बहुत ही अचूक है । 200 मिली चमेली का तेल लेकर उसमें 20 मिली इलायची का तेल मिला लीजिये । इस तेल को थोड़ी थोड़ी मात्रा में लेकर दिये में भरकर कपास की बाती लगाकर ऐसे लड़के अथवा लड़की को हर मंगलवार और शनिवार के दिन सुबह नहाकर अपने कमरे में अपने हाथों से दिया जलाना चाहिये ।


पैसे की तंगी होने पर :-

रूपया पैसा हर किसी की जरूरत होता है और अपनी जरूरत के हिसाब से हर कोई पैसा कमाने के प्रयास में लगा ही रहता है । कई बार ग्रह और गोचर की स्थिति अनुकूल ना होने पर व्यापार ठप पड़ जाता है और जमा पूंजी भी तेजी के साथ खत्म होती दिखती है । व्यापार में बढ़ोत्तरी के लिए और पैसे की तंगी को दूर करने के लिए आपको चमेली का एक पेड़ ढूंढना है जो कम से कम 20 वर्ष पुराना हो और सावधानी के साथ इसकी 2-2 इंच लम्बी मोटी जड़ काटकर लेनी है । जड़ निकालने से पहले चमेली के उस पेड़ से अनुमति मांगनी है और धन की देवी का स्मरण करना है । यह काम सुबह के समय ब्रह्म मुहुर्त में करना है । इस जड़ को लाल कपड़े में लपेट कर और रोली से टीका करके अपनी घर की तिजोरी या व्यापार के गल्ले में रखना है ।




इस लेख के माध्यम से दी गयी जानकारी आपको अच्छी लगी हो तो कृपया पोस्ट को फेसबुक, वहाट्सएप और ट्विटर पर जरूर शेयर कीजिये ।

65 Post Views: 1 Views:
Please follow and like us: