बादाम से मिलने वाले स्वास्थय लाभ…..

बादाम सबसे ज्यादा खाये जाने वाले ड्राई फ्रूट्स में से एक है । वो इसलिये क्योकि बादाम का स्वाद भी बहुत विशिष्ट होता है और बादाम के गुण भी बहुत ही ज्यादा विशिष्ट होते हैं। बादाम मुख्यतः दो स्वाद में आता है मीठा और कड़वा । मीठा बादाम तो खाने का काम आता है और कड़वा बादाम तेल निकालने के लिये प्रायः प्रयोग में लाया जाता है। दोनों ही तरह का बादाम हमको बाजार में आसानी से मिल जाता है। प्रकाशित आयुर्वेद के माध्यम से इस पोस्ट में पढ़िये बादाम से मिलने वाले प्रमुख स्वास्थय लाभों के बारे में ।
.
1:- दिमाग के लिये लाभ:- बादाम को दिमाग के लिये बहुत ही उत्तम माना जाता है। बादाम में उपलब्ध विटामिन ई दिमाग की क्रियाशीलता को बढ़ाता है और दिमाग को सुचारू रूप से काम करने में मदद करता है। बदाम में जिंक धातु पायी जाती है जो दिमाग की कोशिकाओं की रक्षा करती है साथ ही साथ बादाम में उप्लब्ध विटामिन बी-6 दिमाग की खराब कोशिकाओं की मरम्मत करता है। इसके अतिरिक्त गाय के दूध के साथ बादाम खाने से याद रखने की क्षमता बढ़ती है। कुछ रिसर्च में बादाम को बढती उम्र के साथ होने वाले मेमोरी लॉस की अवस्था को नियंत्रित करने में भी लाभकारी पाया गया है। इन सब दिमागी लाभ उठाने के लिये रोज 3-7 बादाम उम्र के अनुसार खाने चाहियें।
.
2:- गर्भावस्था में पोषण:- गर्भवती महिलायें यदि रोज 3-4 बादाम का सेवन करें तो खुद उनको भी और गर्भस्थ शिशु को भी पोषण प्राप्त होता है। बादाम गर्भस्थ शिशु के अच्छे विकास में बहुत लाभ करता है। साथ ही साथ बादाम में फोलिक एसिड प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जो हर गर्भवती स्त्री के लिये परम आवश्यक होता है । अतः गर्भवती स्त्रियॉ अपने डॉक्टर की सलाह से बादाम का सेवन जरूर करें ।
.
3:- मधुमेह का नियंत्रण:- बादाम मधुमेह अर्थात शुगर को नियंत्रित करता है और मधुमेह के अन्य लक्षणों को भी कन्ट्रोल करता है। बादाम में पाये जाने वाले अच्छा फाईबर और अन्य खनिज शरीर में ग्लूकोज़ को नियंत्रित करते हैं । ऐसा माना जाता है कि यदि भोजन से 15 मिनट पहले 2-3 बादाम की गिरी खायी जायें तो यह भोजन खाने से बनने वाले ग्लुकोज़ की मात्रा को नियंत्रित कर देता है ।
.
4:- कोलेस्ट्रॉल का नियंत्रण:- रोजाना बादाम खाने से यह कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करता है। बादाम अच्छे कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ाता है और इसके विपरीत खराब कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करता है । ऐसा इसलिये क्योकि बादाम में पोलि-सैचुरेटड और मोनो-सैचुरेटड फैट अच्छी मात्रा में पाया जाता है।
.
5:- हृदय को मजबूत करे:- बादाम में ऐसे कई तत्व होते हैं जो हृदय को मजबूती देते हैं । जैसे कि बादाम में मैगनीज तत्व पाया जाता है जो रक्त के प्रवाह को और ऑक्सीजन की सप्लाई को सम्पूर्ण शरीर में सुचारु करता है । जिस कारण से यह ब्लड-प्रेशर को नियंत्रित करके हर्ट-अटैक के खतरे को कम करता है। बादाम में बहुत अच्छी मात्रा में मोनो-सैचुरेटड फैट पाये जाते हैं और विटामिन ई भी पाया जाता है ये दोनों ही हृदय के लिये बहुत ही ज्यादा लाभकारी माने जाते हैं।
.
6:- वजन कम करने में सहायक:- इसको पढ़कर आप सोच रहे होंगे कि शायद मैंने गलती से ये टाईप कर दिया । लेकिन ये बात सही हो सकती है बस बादाम को सही युक्तिपूर्वक प्रयोग किया जाना चाहिये । बादाम में पोषण का बहुत प्रचुर भण्डार होता है । बादाम में उप्लब्ध फाईबर, मोनो-सैचुरेटड फैट, प्रोटीन आदि अवयव शरीर की पोषण की माँग को काफी हद तक पूरा कर देते हैं जिस कारण आप भोजन के साथ अतिरिक्त कैलोरी का सेवन करने से बच जाते हैं। यदि आप वजन घटाने के लिये किसी डाईटिशियन की सेवा ले रहे हैं तो इस बारे मे जरूर बात करें ।
.
7:- पाचनतंत्र में लाभ:- बादाम का असर पाचन तंत्र के कुछ भागों पर पाया गया है । जब हमारे भोजन में फाईबर की मात्रा कम होती है तो कब्ज होने लगता है । चूंकि बादाम में फाईबर की अच्छी मात्रा होती है तो यह कब्ज में बहुत लाभ करता है। इसके अतिरिक्त यह ऑतों की गति को ताकत भी देता है । बादाम में तेल भी अच्छी मात्रा में ही होता है जिस कारण यह पेट में ज्यादा एसिड बनने के कारण होने वाली जलन में सेवन किये जाने पर एसिड को उदासीन करके पेट, सीने और हृदय की जलन को शांत करता है। ऐसे रोगियों को रोज 4-5 बादाम का सेवन करना चाहिये ।
.
8:- हड्डियों की मजबूती:- बादाम में फॉसफोरस और कैल्शियम पाया जाता है। ये दोनो ही तत्व हड्डियों की सेहत और मजबूती के लिये बहुत ही जरूरी होते हैं। इनके अतिरिक्त बादाम में मौजूद मैगनिशियम, मैगनीज और पोटाशियम भी हड्डियों को मजबूत करने में बहुत लाभ करते हैं। बादाम का बढ़ती उम्र में नियमित सेवन हड्डियों के खोखला होने (ऑस्टियोपोरोसिस) की अवस्था को दूर रखने में मदद करता है।
.
9:- बालों की समस्यायें:- रूसी खुश्कि हो या बालों का झड़ना, सिर में खुजली हो या बाल बेजान बादाम सभी अवस्थाओं में लाभ करता है। बादाम में बालों के लिये लाभकारी पोषण जैसे कि विटामिन ई, बायोटिन, मैगनीज़, कॉपर और जरूरी फैटि-एसिड पाये जाते हैं । साथ ही बादाम में मौजूद जस्ता नये बालों की ग्रोथ में मदद करता है । बादाम का तेल तो बालों के लिये बहुत ज्यादा प्रयोग किया ही जाता है क्योकि बादाम के तेल से बालों में मालिश करने से रूसी खत्म होती है और बालों में चमक भी आती है। खास बात ये कि पतले और बेजान बालों में 30-60 दिन के अंदर ही पर्क महसूस होने लगता है। बालों का टूटना और दो-मूँहा होने की समस्या में भी राहत मिल जाती है।

77094 Post Views: 9 Views:
Please follow and like us:
58

6 Comments


  1. //

    Ji bahut badiya


  2. //

    very useful n healthy dryfruits


  3. //

    very useful n healthy dryfruits.


  4. //

    health good guide lines


  5. //

    What is the right way to eat baadam. And how much a person should eat


Comments are closed.