बैंगन से मिलने वाले स्वास्थय लाभ…..

baingan ke laabh

बैंगन एक शाही सब्जी मानी जाती है और वो इसलिये क्योकि इसके सिर पर ताज होता है । हास्य विनोद की ये बात हम अक्सर सुनते ही रहते हैं और इसको पसंद करने वाले इसके अलग अलग व्यंजन बना कर और बहुत स्वाद से खाते हैं, किंतु हम में से किसी ने शायद ही कभी इस बात पर गौर किया होगा कि बैंगन से हमको क्या लाभ हो सकता है । इस बारें में बहुत ढूंढने पर भी कम जानकारी ही उपलब्ध हो पाती है । इस पोस्ट में पाइये बैंगन से मिलने वाले स्वास्थय लाभों की जानकारी प्रकाशित आयुर्वेद के सौजन्य से ।
.
1 :- वजन घटाने में सहायक :- बैंगन वजन घटाने में सहायक माना जाता है क्योकि बैंगन फाईबर का बहुत अच्छा स्रोत है और फाईबर अधिक होने के कारण बैंगन कम खाये जाने पर भी भूख को जल्दी शांत करता है । इसके अलावा बैंगन में कैलोरी बहुत कम पायी जाती हैं । बैंगन के 100 ग्राम में केवल 25 कैलोरी पायी जाती हैं
अपनी रोज की ड़ाईट में एक समय उबले बैंगन का सेवन सेंधा नमक मिलाकर भोजन शुरू करने से पूर्व खायें ।
.
2 :- हृदय को स्वस्थ रखे :- बैंगन में हृदय को स्वस्थ रखने का गुण भी होता है क्योकि इसमे फाईबर के साथ साथ पोटाशियम, विटामिन बी-6 और फ्लैवोनॉइड्स नामक तत्व पाये जाते हैं । ये सभी तत्व एक साथ मिलकर हृदय की बीमारी होने की सम्भावना को बहुत कम कर देते हैं । बैंगन में मौजूद एण्टी-ऑक्सीडैंट तत्व धमनियों और नसों के लिये बहुत अच्छा होता है । हृदय की बीमारियों का खतरा होने पर सप्ताह में 2-3 बार उबले बैंगन का सेवन जरूर करना चाहिये ।
.
3 :- रक्तचाप को नियंत्रित करे :- बैंगन में पोटाशियम तत्व पाया जाता है जो शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स के संतुलन को बनाये रखने में बहुत सहायक होता है । यह शरीर में सोडियम के प्रभाव को कम करके रक्तचाप को नियंत्रित करता है । इसके अंदर बैंगन में पाया जाने वाला एन्थोसायेनिन तत्व रक्तचाप को कम करने के लिये बहुत विशेष माना जाता है
रोज सुबह बैंगन का 100 मि०ली० जूस लौकी के 100 मि०ली० जूस के साथ मिलाकर पिया जाना चाहिये ।
.
4 :- शुगर के लिये अच्छा :- बैंगन में कार्बोहाइड्रेट तत्व बहुत कम पाया जाता है और फाईबर ज्यादा पाया जाता है इस कारण से यह शुगर के रोगियों के लिये अच्छा माना जाता है । ऐसा इसलिये क्योकि कम कार्बोहाइड्रेट में फाइबर शरीर में ग्लुकोज़ के स्तर को प्रभावी रूप से नियंत्रित कर देता है ।
.
5 :- कोलेस्ट्रॉल को कम करे :- बैंगन में क्लोरोजेनिक एसिड पाया जाता है जो एक प्रभावी एण्टी-ऑक्सीडैण्ट है । यह एण्टी-ऑक्सीडैण्ट कोलेस्ट्रॉल का विरोधी होता है जिस कारण से यह इसके स्तर को शरीर में कम करता है । इसमें पाया जाने वाला फाईबर लीवर के द्वारा खराब कोलेस्ट्रॉल को शोषित किये जाने की दर को बढ़ा देता है, इससे भी शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम होती है ।
.
6 :- त्वचा को निखारे :- उम्र बढ़ने के साथ साथ त्वचा में झुर्रियॉ पड़ना और त्वचा का मुरझा सा जाना एक बहुत बड़ी समस्या है । बैंगन में मौजूद एण्टी-ऑक्सीडैण्ट और विटामिन तत्व ऐसा होने से रोक सकते हैं । इसके अतिरिक्त बैंगन में जलयाँश भी बहुत होता है जो त्वचा को प्राकृतिक रूप से निरोगी रखता है । इस समस्या के समाधान के लिये कच्चे बैंगन के गूदे को गुलाब के फूल की ताजी पँखुड़ियों के साथ पीसकर चटनी जैसा बनाकर चेहरे पर उबटन करना चाहिये ।
.
7 :- दिमाग के लिये अच्छा :- बैंगन के सेवन से दिमाग की कोशिकाओं के क्षतिग्रस्त होने से बचा जा सकता है क्योंकि बैंगन में फाइटो-न्यूट्रिएंट्स पाये जाते हैं जो कोशिकाओं की झिल्ली की रक्षा करते हैं । ये फाइटो-न्यूट्रिएंट्स याद रखने की क्षमता को भी बढ़ाते हैं ।
.
8 :- कैंसर से बचाये :- फाईबर और एण्टी-ऑक्सीडैण्ट दो ऐसे तत्व हैं जो कैंसर से बचाने में बहुत मदद करते हैं । फाईबर, आहार नलिका में विषाक्त तत्वों की सफाई में मदद करता है और एण्टी-ऑक्सीडैण्ट शरीर में मौजूद हानिकारक तत्व फ्री-रैडीकल की सफाई का काम करता है ।
.
विशेष नोट :- बैंगन का सेवन बवासीर और मूत्र मार्ग की पथरी के रोगियों के लिये मना किया जाता है, अतः अपने डॉक्टर से अवश्य परामर्श करें ।
बैंगन को लोहे के चाकू-छुरी से नही काटना चाहिये बल्कि स्टैनलेस स्टील की छुरी से काटना चाहिये जिससे बैंगन में मौजूद लाभदायक तत्व फाइटो-न्यूट्रिएंट्स सुरक्षित रहे ।

36749 Post Views: 6 Views:
Please follow and like us:
56

1 Comment

Comments are closed.